24 ऑवर्स फ्री सर्विस

Posted: 28 सितंबर 2009
24 ऑवर्स फ्री सर्विस

जिन्दा  रहने के लिए हवा सबसे बढिया दवा है। आदमी को आठ दिनो तक भोजन न मिले तो जिन्दा रह सकता है। चार दिन पानी ना मिले तो जिन्दा रह सकता है। लेकिन दो मिनट हवा न मिले तो जिन्दा नही रह सकता है। हवा धर्मनिरपेक्ष है। हिन्दू हो या मुसलमान, जैन हो या बोद्ध हवा सबको स्वीकार है। हवा भेद भाव भी नही करती है। गरीब के पास कोई नही जाता किन्तु हवा जाती है। यह कुदरत की और से मनुष्य के लिऍ 24 ऑवर्स फ्री सर्विस है। मनुष्य को अगर हवा न मिले तो मनुष्य की हवा निकलते देर नही लगेगी। पैड पोधो की अन्धा-धुन कटाई को रोक, हमे पर्यावरण को बचाना है।
मुनि श्री तरुणसागरजी कडवे प्रवचन,75-4

6 comments:

  1. एकलव्य 29 सितंबर, 2009

    बहुत बढ़िया भोजन न मिले पर हवा चौबीस घंटे फ्री सर्विस करती है .

  2. अल्पना वर्मा 29 सितंबर, 2009

    sahi kaha --हवा धर्मनिरपेक्ष है..sundar vachan ke liye abhaar.

  3. ताऊ रामपुरिया 29 सितंबर, 2009

    बहुत सुंदर और सात्विक वचन हैं. धन्यवाद.

    रामराम.

  4. संजय बेंगाणी 29 सितंबर, 2009

    सहमत...

  5. राज भाटिय़ा 29 सितंबर, 2009

    आप ने बहुत् सुंदर लिखा, लेकिन लोग इस की परवह नही करते, ओर इसे ही खराव करने पर तुले है.
    धन्यवाद

  6. Acharya Kishore Ji 29 सितंबर, 2009

    sahi kaha aapne aapke vichaaro se hum purntaya sahmat hain

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमुल्य टीपणीयो के लिये आपका हार्दिक धन्यवाद।
आपका हे प्रभु यह तेरापन्थ के हिन्दी ब्लोग पर तेह दिल से स्वागत है। आपका छोटा सा कमेन्ट भी हमारा उत्साह बढता है-